Mutual Fund Kya Hai Kaise Kaam Karta Hai, Mutual Fund Ki Jankari

0

नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है हिंदी में सेवा ब्लॉग पर आज की इस पोस्ट में हम बात करने वाले हैं Mutual Fund Kya Hai आपने म्यूच्यूअल फंड के बारे में कई बार सुना होगा लेकिन आपको इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है तो आज की इस पोस्ट में हम इसी टॉपिक पर विस्तार से बात करने वाले हैं.

Mutual Fund Kya Hai

म्यूच्यूअल फंड एक अंग्रेजी शब्द है इसे हम हिंदी में पारस्परिक निधि कहते हैं लेकिन इसका अंग्रेजी नाम ही काफी प्रचलित है और लोग कभी भी इसे पारस्परिक निधि से नहीं पहचानते हैं.

म्यूच्यूअल फंड एक सामूहिक निवेश होता है म्यूच्यूअल फंड में निवेशक एक साथ मिलकर शेयर मार्केट, अल्प अवधि के निवेश या अन्य प्रतिभूतियों सिक्योरिटी में निवेश करते हैं.

म्यूच्यूअल फंड या फिर शेयर मार्केट जैसे शब्द को सुनकर अक्सर लोग इससे दूर ही रहना पसंद करते हैं हमारे देश भारत में एक आम बात है क्योंकि हमारे देश में अभी शेयर मार्केट या फिर इस तरह के निवेश में ज्यादा रुचि लोग नहीं दिखाते हैं.

म्यूच्यूअल फंड के बारे में आपके पास सही जानकारियां हो तो में आपसे यह बात कह सकता हूं कि आप इसमें निवेश जरूर करेंगे क्योंकि यदि आप म्यूच्यूअल फंड में लंबे समय के लिए निवेश करते हैं तो आपको इसमें बहुत ही ज्यादा प्रॉफिट हो सकता है.

म्यूच्यूअल फंड की बुनियादी बातों को समझने के लिए सबसे पहले तो हमें यही जानना होगा कि म्यूच्यूअल फंड क्या है तो जैसा कि हमने आपको बताया कि म्यूच्यूअल फंड में निवेशक का सामूहिक निवेश होता है.

म्यूच्यूअल फंड में एक सामूहिक निवेशक स्टॉक, अल्प अवधि, सिक्युरिटीज में निवेश करते है यूटीआई एएमसी भारत की सबसे पुरानी म्यूच्यूअल फंड कंपनियां है और ज्यादातर लोग इन्ही में निवेश करते हैं.

आपने हमारी पिछली पोस्ट पढ़ी होगी तो उसमें हमने म्यूच्यूअल फंड की कितनी कंपनियां है उनके बारे में बताया है और साथ में ही आपको यह भी पढ़ना चाहिए कि आप म्यूच्यूअल फंड में अपना पोर्टफोलियो कैसे बना सकते हैं.

आप यदि म्यूच्यूअल फंड में निवेश करना चाहते हैं तो आपको शेयर बाजार की जानकारी होना जरूरी नहीं है क्योंकि आपने जो भी अपना म्यूच्यूअल फंड में पैसा लगाया है वह म्यूच्यूअल फंड कंपनियां उसे अलग अलग करके शेयर में निवेश करती हैं.

आपसे एक तरफ से में कहूं तो आपने जो म्यूच्यूअल फंड में अपना पैसा लगाया है वह एक से अधिक कंपनियों के शेयर में पैसा लगाया हुआ है.

म्यूच्यूअल फंड में निवेश कैसे करें

आपके मन में यह सवाल बार-बार आता होगा कि आप म्यूच्यूअल फंड में निवेश कैसे कर सकते है तो चलिए अब इस बारे में बात कर लेते है.

म्यूच्यूअल फंड में आप बड़ी ही आसानी से निवेश कर सकते हैं बस आपको म्यूच्यूअल फंड कंपनी में अपना अकाउंट बनाना है और एक अच्छा सा प्लान आपको सेलेक्ट करना है जिसमें आप अपना पैसा लगाना चाहते हैं.

म्यूच्यूअल फंड कंपनियां क्या करती है कि जो निवेशक हैं उन्होंने जो पैसा लगाया है वह सारा पैसा इकट्ठा करती है उसके बाद वह अपने हिसाब से बाजार में पैसा लगाती है लेकिन इसके लिए म्यूच्यूअल फंड कंपनी निवेशकों से थोड़ा सा चार्ज वसूल करती है.

म्यूच्यूअल फंड कंपनियां किसी भी कंपनी के शेयर में अपना पैसा निवेश कर सकती है लेकिन इसके लिए निवेशकों को चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं होती है वह का म्यूच्यूअल फंड कंपनियां करती है.

आपको एक बात बता देना चाहते की आप बैंक के द्वारा म्यूच्यूअल फंड में निवेश कर सकते है.

म्यूच्यूअल फंड योजना

निवेशक किसी विशेष शेयर के लिए कॉल नहीं चाहते है वे सूचकांक आधारित योजना यानि इंडेक्स स्कीम में निवेश कर सकते हैं क्योंकि इंडेक्स स्कीम उन विशेष शेयरों में ही निवेश करती है जो किसी विशेष इंडेक्स का हिस्सा होते हैं.

लार्ज कैप और मिड कैप

यह स्कीम अच्छी संभावनाओं वाली छोटी और मझोली कंपनियों में निवेश करती हैं इनमें जोखिम अधिक होता है लेकिन इनमें अधिक रिटर्न देने की क्षमता होती है.

शेयर बाजार में लंबी अवधि का निवेश लाभादायक होता है और अल्पावधि निवेश करने वालों के लिए जोखिम अधिक होता है लार्ज कैप म्यूचुअल फंड में निवेश किसी ब्लूचिप कंपनी के स्टॉक में किया जाता है.

इनमें निवेश सुरक्षित माना जाता है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इनके बारे में जानकारी हर जगह उपलब्ध होती है मिड कैप म्यूचुअल फंड में निवेश मध्यम और छोटे आकार की कंपनियों में किया जाता है.

बैलेंस्ड फंड

बैलेंस्ड फंड को हाइब्रिड फंड कहते हैं यह कॉमन स्टॉक, प्रैफर्ड स्टॉक, बांड और अल्पावधि बांड होता है.

ग्रोथ फंड

ग्रोथ फंड की सहायता से अधिकतम फायदा प्राप्त करने का प्रयास किया जाता है इनमें निवेश उन कंपनियों में किया जाता है जो बाजार में तेज प्रगति करती हैं.

वैल्यू फंड

इनमें अपेक्षाकृत कम लाभ होता है किन्तु हानि की संभावना बहुत कम होती है.

म्युच्युअल फंड का गठन कैसे किया जाता है

म्युच्युअल फंड का गठन एक ट्रस्ट के रूप में किया जाता है जो स्पांसर ट्रस्टी, एसेट मैनेजमेंट कंपनी (एएमसी) और कस्टोडियन के अधीन होता है ट्रस्ट की स्थापना एक या उससे अधिक स्पांसर द्वारा की जाती है कंपनी में जिस तरह प्रमोटर होते हैं उसी तरह म्युच्युअल फंड में प्रायोजक होते हैं.

आपके मन में यह सवाल जरूर होगा कि क्या हमें म्युच्युअल फंड में अच्छा खासा प्रोफिट मिल सकता है तो यहां पर मेरा जो अनुभव है तो उसके हिसाब से यदि आप लंबे समय के लिए म्युच्युअल फंड में निवेश करते हैं तो आपको अच्छा प्रॉफिट मिल सकता है.

दोस्तों अब में सिर्फ आपको यही कहना चाहता हूं कि आपको इस पोस्ट में हमारी कोई बात समझ में ना आए हो तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं.

धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here