KPO Full Form In Hindi, केपीओ का फुल फॉर्म क्या है

केपीओ का फुल फॉर्म क्या है आपको पता है केपीओ क्या है आपके पास यदि KPO शब्द से रिलेटेड कोई जानकारी नहीं है तो फिर आप एक सही पोस्ट पर आए हैं इस पोस्ट में हम बात करने वाले हैं KPO Full Form In Hindi क्या होता है.


आपने हमारा पिछला पोस्ट पढ़ा होगा तो आपको पता ही होगा कि बीपीओ क्या है आपको हम बता देना चाहते हैं कुछ हद तक केपीओ और बीपीओ शब्द मिलते जुलते हैं.


हालांकि केपीओ बीपीओ की तरह पॉपुलर नहीं है इसकी बड़ी वजह भी हो सकती है कि ज्यादातर लोगों को केपीओ शब्द के बारे में कोई जानकारी ही नहीं होती है.


केपीओ एक शॉट शब्द है जिसका फुल फॉर्म होता है जिसके बारे में आज की इस पोस्ट में आपको हम बताने वाले हैं केपीओ का फुल फॉर्म क्या होता है.


आपको यह भी पढ़ना चाहिए


1. बीपीओ का फुल फॉर्म क्या है

2. डीटीओ का फुल फॉर्म क्या है

3. आरटीओ का फुल फॉर्म क्या है


केपीओ का फुल फॉर्म क्या है


आप इस पोस्ट में केपीओ का फुल फॉर्म अच्छे से समझ पाए इसके लिए हम आपके साथ KPO Full Form In Hindi और KPO Full Form In English दोनो डिटेल के साथ बताने वाले हैं.


KPO Full Form In Hindi


KPO Full Form In English: Knowledge Process Outsourcing


K - Knowledge

P - Process

O - Outsourcing


KPO Full Form In Hindi: ज्ञान प्रक्रिया आउटसोर्सिंग


K - Knowledge (ज्ञान)

P - Process (प्रक्रिया)

O - Outsourcing (आउटसोर्सिंग)


केपीओ का पूरा नाम हिंदी में क्या है


आप जानना चाहते हैं कि केपीओ का नाम हिंदी में नाम क्या होता है तो चलिए हम आपको बता देते हैं इसका पूरा नाम हिंदी में होता है ज्ञान की एक ऐसी प्रक्रिया जो बाहरी स्त्रोत से की जाए.


केपीओ क्या है


आप केपीओ का पूरा नाम नॉलेज प्रोसेस आउटसोर्सिंग भी कह सकते हैं इसमें किसी क्षेत्र के विशेषज्ञ के रूप में सेवा प्रदान की जाती है केपीओ बीपीओ का ही एक सब्जेक्ट होता है.


बीपीओ की तरह ही केपीओ की धारणा समान होती है जिसमें आम तौर पर कोई कंपनी या संगठन अपना काम तीसरी पार्टी से कराती है केपीओ किसी भी कंपनी का एक अहम हिस्सा होता है.


केपीओ आम तौर पर बीपीओ का उच्च स्तर होता है इस प्रोसेस के तहत किसी कार्य विशेषज्ञ के रूप में सर्विस दी जाती है आजकल कंपनियां अपने व्यापार के विस्तार के लिए दूसरी कंपनियों को काम देती है.


आपको हम बता दें कि केपीओ आमतौर पर किसी भी कंपनी में ज्ञान और इंफॉर्मेशन के आधारित होता है जो आम तौर पर हाई लेवल पर शिक्षा प्राप्त होता है.


केपीओ और बीपीओ में क्या अंतर है


तुलनात्मक दृष्टि से देखा जाए तो केपीओ बीपीओ से व्यवस्था प्रक्रिया आउटसोर्सिंग में अधिक बौद्धिक, ज्ञान और विश्लेषणात्मक है जिन्हें प्रशिक्षित पेशेवरों के कौशल की आवश्यकता होती है.


जबकि बीपीओ सर्विस के लिए केवल अंग्रेजी भाषा का एक अच्छा आदेश और कुछ बुनियादी कंप्यूटर कौशल की आवश्यकता होती है.


KPO का काम आमतौर पर एक संगठन की मुख्य सुरक्षा के साथ एकीकृत होता है KPO संबंधित कार्य प्रकृति में जटिल है और आमतौर पर प्रमाणित पेशेवरों द्वारा किया जाता है.


केपीओ फुल फॉर्म: निष्कर्ष


केपीओ का फुल फॉर्म क्या होता है इस सवाल का जवाब आपको अब मिल चुका होगा इसके साथ ही आपको केपीओ क्या है इसके बारे में भी जानकारी मिली होगी फिर भी आपको ऐसा लगता है कि इस पोस्ट में कोई जानकारी अधूरी है तो इसके बारे में आप हमें बता सकते हैं.


आज की इस पोस्ट का मुख्य तौर पर टॉपिक KPO Full Form In Hindi क्या होता है जिसके बारे में हमने आपको इस पोस्ट में पूरी डिटेल के साथ बताने का प्रयास किया है.


अब इस पोस्ट के आखिरी हिस्से में आपसे एक रिक्वेस्ट करना चाहता हूं आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई हो तो जरूर अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर करें

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां